Neelam Samnani तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
2 महिना पूर्वी

हमने कई कवितायेँ
हाथो में पकड़ी
माथे पर पकड़ी
पर दिल पर न रख सके।

और जो कविताऍं दिल मे
रखी गई ,
वो खुद ब खुद
माथे और हाथो में ठहर गई।

अजून वाचा
Neelam Samnani तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
2 महिना पूर्वी

बाज़ार में कई सामान है
आज ये आकर्षित करता है
कल कुछ और

क्या फर्क पडेगा
कल तुम आकर
ये कह दो
की तुम्हारा प्रेम
उतना आकर्षित नहीं रहा,अब।

अजून वाचा
Neelam Samnani तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
3 महिना पूर्वी

*******
मेरी हथेली पर सुस्त पडी
रेखाये ,चक्रव्यूह की तरह
कभी तूफान उठाती है
और कभी खामोश सागर किनारा।

दोनो हथेलियों को
जुड़ने पर ये
बोसा लेती है और
बिछड़े प्रेमी सी गले लगती है रेखायें

मतभेद होने पर चीख चीख कर
लड़ती है
बाज़ दफा ये हुआ, चलते तुफान
में से उठकर हस्त्- रेखाओ ने हाथ चूमा
फिर वही निढाल हो गई।

कुछ पण्डितो ने इनके नखरो
पर कुछ बुरे रंग ,बुरे सितरो का असर बताया
और कुछ ने इनकी हालात पर
हवन किया ।

न जाने कितनी तरकीब की
इन्हे बदलने की
पीपल के चक्कर लिये
दरगाह पर माथा टेक
चर्च में मोम्बती
और गुरुद्वारो में
अरदास।

सब फिजूल।

माँ अक्सर इनको भाग्य कहती ,पर उन्होने
बहती नदियो पर बान्ध डालकर
खुद को ही भाग्य विधाता भी कहा।


pic courtesy:Google

अजून वाचा
Neelam Samnani तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
3 महिना पूर्वी

जब भी मैं प्रेम में रहूँगी
जंगली फूल बनी रहूँगी।
महक बन
धरा की उस छोर
तक जाऊंगी
जहां अनंत में सागर
और जंगल एक हो जाते है


#जंगली

अजून वाचा
Neelam Samnani तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले English कविता
3 महिना पूर्वी

प्रेम जब प्रचार में था
उन्मुक्त की बात
शर्त में कही गई
प्रेम में डूबते ही
शर्ते शातीर हो गई
प्रेममय हुए प्रेममयी
ठग लिए गये ।

पिंजरे से आसमान टुकरता है
पँछी


pic : google

अजून वाचा
Neelam Samnani तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले English कविता
3 महिना पूर्वी

पत्थरों पर गिराकर फूल
तुम समझाते हो
सब रिश्ते यूँही
पेड़ों से टूट
कर ,उगना वापस भूल
जायेंगे ।

गलत सोचते हो
ये जो गिरे है
ये वक्त के नव प्रतिस्फुटित
होने वाले बीज
जो अभी
खिलेंगे, वो
फूल अभी प्रेम के
बीज ,मुट्ठी मे
पकडे है

धरा की छाती में कुछ
भेद गिलहरी बो देगी
असमान कुछ नेह बरसा देगा
बनकर प्रेम का बीज
खिलेगा फिर नया
कोई बाग यहाँ।



Pic courtesy: Google

अजून वाचा
Neelam Samnani तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
3 महिना पूर्वी

उस दिन जब


उस दिन जब
   मन सपने बुनने 
   का कारिगर न रहे।
   हिम्मत की तुरपाई 
   उधड जायँ ।
   जोश बेस्वाद हो जाये
   ज़ुबाँ नमक से भी ज्यादा
   खारी हो जाये।
   और ज़मीं आसमां से भी 
    बडी लगे।

    समझ लेना तब विकलांगता 
    आ गई  है तुम्हें 
    अंगो का न होना वर्ना 
     कोई विकलांगता नहीं।

अजून वाचा
Neelam Samnani तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
3 महिना पूर्वी

मै युद्ध को पीठ पर ढोती हूँ
इसलिए एक हुंकार निकलती है
मैं हर लाज़िमी शब्द पर चिखती हूँ
और नमुनासिब शब्द पर सिस्कती हूँ
तलवार नहीं कलम से मश्तिष्क को तराशती हूं
समझकर भी न समझो
दर्द की धार कितनी पैनी है
प्रसव की पीडा में हूँ जैसे

निरंतर सीने मे आँख बहती है
उसने दो वक़्त की रोटी का जुगाड़ में
अपनी कमर उधार दे दी
उसने दो वक़्त की रोटी में
अपनी छाती साहूकार के पास रख दी

वो दो रोटी के लिए काले हाथो की गोरी हथेलियों फैलता है
तुमने देखा होगा उस बच्चे की कमर पर एक बच्चा सोता है
मेरा सीना छीलता है जब ये कहानी कहती हूँ
वो बूढ़ा बाकी छ: का पेट पाल सके,
अपनी बेटी को हैवनो के हवाले कर आता है
दर्द खेती करता है धड़कनो पर
पर किसानअपनी खेती से ही मर जाता है

उनकी क्या कहानी जो बन्जारे बन गये
पता नहीं उन माँओ की छाती से कब ढूध
फूटता है

अजून वाचा
Neelam Samnani तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
3 महिना पूर्वी

सख्ती से नापसंद की हुई चीजे
मन को पीडा देती है।

गुलाब को काँटो का नापसंद होना
प्रेमी का प्रेमिका से बिछड़ना
हाथ का मैला होना
मन का उजाड होना
रिश्तो का सिसकना
आत्मा का बन्धन से मुक्त होना।

नापसंद की कुछ कहानियाँ है नापसंद
फिर भी कहानियाँ ठहरी रहेंगीं।

अजून वाचा
Neelam Samnani तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
3 महिना पूर्वी

प्रेम की उम्र बस इतनी
जितनी दूर पडोसी का दरवाज़ा।

करना है तो अभी करो प्रेम
बीसाते बिछाओ
चाले चलो
हर चाल पर उल्टी
चाल चलो
प्रेम की

मेरे सामने कुर्सी पर
बैठा कोई शक्स, पूरी दुनियाँ को
कंप्यूटर मशीन से
सबको एक सूत्र में
बाँधने की बात कर रहा हैं
प्रेम ही होगा वो भी

ना जाने क्यो लोग चान्द को
देख प्यार की बात करते हैं
पर हक़ीक़त ये है
की एक दुसरे की प्रेम की नब्ज़ छूते छूते रह जाते है।

आज के हालात में प्रेम बचाने की जरूरत नहीं
अगर तुम प्यार बाटने मे लगे हो।

Pic:Google courtesy

अजून वाचा