कोशिश भी कर, उमीद भी रख, रास्ता भी चुन, फिर इस के बाद, थोड़ा मुक़द्दर तलाश कर ।।


परेश मेहता तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी विचार
21 तास पूर्वी

જીત જેવું કંઈ નથી ને હાર જેવું કંઈ નથી!
આપણી વચ્ચે હવે તકરાર જેવું કંઈ નથી!!
જિંદગી તારા વગર કેવી છે સાચું કહું તને!
વાર્તા લાંબી છે પરંતુ સાર જેવું કંઈ નથી!!

अजून वाचा

मेरी सांसें रहें जब तक तेरी चाहत के मौसम हों
मोहब्बत हो कभी न कम भले सांसें मेरी कम हों
कहूँ मै अलविदा हंसकर ज़माने को तो उस पल भी
हमारे ख्वाब मे तुम हो तुम्हारी याद मे हम हों...........

अजून वाचा

गहरे पानी में जो उतरता है
झोलियां मोतियों से भरता है
छोड़ कर घर कहां गया अपना
सूखा पत्ता हवा में उड़ता है
प्यार का धागा टूट जाता है
मन का मनका तभी बिखरता है
जब उतरता है मन के सागर में
यह जगत बाहरी सा लगता है
जहन में तेरी याद उठती है
जैसे आग सी इक धधकती है
स्वर्ग आकाश पर नहीं मिलता
स्वर्ग धरती पर उतरता है

अजून वाचा

❤️💕क्यु तेरे लब,.............. खमोश है आ मेरे पास इसे अल्फाज दे दु।❤️💕

❤️💕मैं खुद से परेशान हु पर
आ तुझे खुश रहने का अंदाज दे दू।❤

अजून वाचा

🌿🌹........🌿🌹......🌿🌹

""वो बदनाम न हो..... इसलिये उसका नाम नही लेते....❣️
◆●◆●◆.......🍀
वरना दिल बहुत करता है..... उसको पुकारने का""....❣️

अजून वाचा