લખવું એ મને વારસા માં મળેલું છે...પણ હજુ તો મારી શરૂઆત છે...


Ripal Vyas तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी प्रेरक
2 तास पूर्वी

में हैरान हूं क्यों लोग भागते रहेते है पूरा समय.... क्या मिलता ऐसे भागने से ये भी नहीं सोचते ......
थोड़ा संभल जा, थोड़ा रुक जा, देख आस पास तेरे.... प्रकृति की सुंदरता
तुझे बुला रही है आयना दिखाने के लिए
लगा आंतर मन में डुबकी तेरा चहेरा खुद दिख जाएगा....तु जिस शांति की तलाश में भटकता है वो प्राप्त हो जाएगी।

अजून वाचा
Ripal Vyas तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी प्रेरक
17 तास पूर्वी

बचा लिया तुमने आखिर...
पता था बिना बचाए नहीं रह पाओगी...
आखिर मेरी मां जो हो....
छोटा सा था तबसे लेकर आज तक
कितना भी तेरा मन रोके तुझे... पर तेरा
दिल कभी नहीं सुनता तेरी....वो मेरी
तरफ खींचा ही रहेता है ....ओ माई कितना प्यार करती है तु!!! जिनका कोई मूल नहीं ...

अजून वाचा
Ripal Vyas तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी प्रेरक
2 दिवस पूर्वी

ये मेरा काम नहीं....
क्यू भागता है ऐसा कह के अपनी जिम्मदारियों से ?????
कर ले थोड़ा सा काम अपनो के प्यार के लिए...
कभी फुरसद में देख लेना उनकी आंखो में जवाब मिल जाएगा...
छोटा सा एक काम क्या कर लिया... कितना सुकून मिलता है कभी झांकना अपने दिल में... वजह मिल जाएगी ना भागने की.....

अजून वाचा
Ripal Vyas तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी प्रेरक
2 दिवस पूर्वी

तिरंगा है मेरा.... इतिहास गवाह है कैसे लहराया है....
कितनी कुरबानियां दी है मेरे वतन के लोगो ने....आज वही शान और शौकत से हम भी तिरंगे का सम्मान करते हुए गर्वित होते है... देश के लिए कुछ ना करे तो.....जो करता है उसे हम साथ दे...🙏

अजून वाचा

મારો દેશ....મારુ અભિમાન...🇮🇳🙏

Ripal Vyas तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी प्रेरक
3 दिवस पूर्वी

उम्मीद

उन उम्मीदों में खड़ा उतारना इतना आसान नहीं होता......
मगर मुश्किल भी नहीं है.....
थोड़ा सी मनमर्जी ओर.....
थोड़ा सा हौसला बढ़ाओ....
हो जाएगा बुलंद तेरा किरदार...
फिर मुठ्ठी में होगी तेरी हर ख्वाइश पूरी करने की कोशिश...
आंखो में होगी चमक, चाल में होगा एक जुस्सा, स्वाभिमान से भरा तेरा मस्तक...
पहेचान होगी तेरी....

अजून वाचा
Ripal Vyas तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
6 दिवस पूर्वी

जा.... भर ले उड़ान
किसने रोका है तुम्हे....
तेरी खोज ही तेरा जनुन होगा
किसने रोका है तुम्हे.....
तेरा विश्वास ही तेरा उत्साह है
किसने रोका है तुम्हे....
हाथ फैला के समेट ले आकाश
किसने रोका है तुम्हे....
रास्ता तेरे सामने है चल पड
किसने रोका है तुम्हे....
तेरे मन की हर ख्वाइश पूरी कर
किसने रोका है तुम्हे....
तेरे में पड़ी अच्छी सोच बता दें सबको
किसने रोका है तुम्हे....
तेरे में रही अच्छी इंसानियत दिखा दे
किसने रोका है तुम्हे....
बस....एक बार कर ले हिम्मत ...निकाल अपने डर को बाहर.... फिर देख कैसे
छलांग लगाता अपनी मन की....

अजून वाचा
Ripal Vyas तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी प्रणय
7 दिवस पूर्वी

हमको दुनियावालों ने बहोत कुछ सिखाया....इसीलिए तो आज ये मोड़ पे खड़े है.... वरना कुए के मेंढ़क ही बने रहेते....लेकिन सिखने के लिए सही समय की परख भी आनी चाहिए.....

अजून वाचा
Ripal Vyas तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी शुभ संध्या
1 आठवडा पूर्वी

मेरे हाल पे हसने वाले मेरे यार
हस ले जितना हसना है कल किसने
देखी है तु कहा में कहा....
हम जो एकदुसरे पर ये हसते है वो
याराना एक हसीन याद बनके रहेने वाला है.....ये मजाक...ये मस्ती....ये दोस्ताना
पता नहीं फिर कब मिलेंगे ....
इसीलिए मेरे हाल पे हसने वाले हस ले
जी भर के ....

अजून वाचा
Ripal Vyas तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी प्रेरक
1 आठवडा पूर्वी

तुम्हे पता भी नहीं चलेगा कि क्या क्या गवा दिया है तुमने.....
और वक़्त ऐसे ही चला जाएगा....
थोड़ा संभल जा, थोड़ा रुक जा ओर देख कितनी जल्दी बदल रही है दुनिया
तु भी चल उठ....हो जा सबके साथ समय तेरा भी साथ देगा, राह भी दिखायेगा मगर सही राह चुनके चलना तो तुझे पड़ेगा....तभी तो मंजिल मिलेगी
तेरी ख्वाइश पूरी होगी....

अजून वाचा