M Chief Engineer in MNC writing my own poems n published on Amazon & Flipkart total my 7 poems books with titles as my MB ID - as “रुँह-The Spiritual Power”


Rooh The Spiritual Power तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
10 तास पूर्वी

My New Poem....!!!!

*"खता मत गिन ए नादान दोस्ती में,
कि किसने क्या ख़ता क्या गुनाह किया..."*

*"यह दोस्ती तो बस एक एसा नशा है,
जो तूने भी किया और मैंने भी साथ किया..*

“इन्सानी जिस्म में मिली हैं हमें रूह तो,*
*रस्म-ओ-रिवाजों की बंदिशें क्या हैं.....*

*यह जिस्म तो ख़ाक सुपुर्द हो जाना है,*
*बे-शक एक दिन फिर रंजिशें क्या है*.....

*माना अस्पतालों के ख़ज़ाने हैं ज़माने में
पर हर मर्ज़ का इलाज नहीं दवाखाने में...!*

*ला-इलाज-से कुछ दर्द भी चले जाते है,*
*यारों सच्चे दोस्तों के साथ मुस्कुराने मे*....

✍️🥀🌲🌹🖊🖊🖊🌹🌲🥀✍️

अजून वाचा
Rooh The Spiritual Power तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले English प्रेरक
11 तास पूर्वी
Rooh The Spiritual Power तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले English प्रेरक
23 तास पूर्वी

Kenya News.

Lions Taking Tourists And Park Rangers On a Tour of The Jungle.

Who Else is More Qualified to Guide You in The Jungle Than The King Himself ?


It Happens only in Kenya.

epost thumb
Rooh The Spiritual Power तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी प्रेरक
1 दिवस पूर्वी

My New Poem...!!!


लफ्ज़ो के सही इत्तेफाक में
यूँ बदलाव बंदे तूं कर के देख

दूसरों को तू देखकर न मुस्कुरा
बस औरों को तूं मुस्कुरा कर देख

वैसे तो हवा भी कहा दिखती हैं
कोशिश से बिना हवा जी कर देख

साँसें भी मोहताज धड़कन की होती है
साँस-ओ-धड़कन पे क़ाबू पा के देख

द्वार-ओ-दिवारों से घर नहीं बनता
मिट्टी के ढाँचे को प्रभु घर बना के देख

कहते है हिमालय समाधि के लिए है
मिट्टी के घर को ही समाधि बना के देख

सच्चे इन्सान को ही प्रभु मिलते है
आदमी से सच्चा इन्सान बन के देख

✍️🥀🌹🌲🖊🖊🖊🌲🌹🥀✍️

अजून वाचा
Rooh The Spiritual Power तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले English प्रेरक
1 दिवस पूर्वी
Rooh The Spiritual Power तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
3 दिवस पूर्वी

My New Meaningful Poem..!!


*_'गुफ्तगू' करते रहिये,_*
*_थोड़ी थोड़ी अपने चाहने वालों से..._*

*'..जाले' लग जाते हैं,*
*..अक्सर बंद मकानों में.....*

* ..मरम्मत’ अपने अच्छे-बूरे,..*
*..रिश्तों की भी थोड़ी थोड़ी करते रहिए._*

*..तुट जातें हैं अक्सर रिश्ते..*
*..रिश्तों के बीच फ़ासला बढ़ जाने से.._*

*..दूरियों कुछ नाजुक-से..*
*..रिश्तों में भी थोड़ी थोड़ी बरकरार रखिए_

*..यारों हल-चल मच जाती हैं..*
*..एसे रिश्तों में ज़्यादा क़रीब जाने से.._*

*..बेटी घर बाप रहे, या ससुराल में..*
*..दामाद रहे, कोड़ी के मोल हो जातें है._*

*..बस एसे ही कुछ नाज़ुक-से..*
*..संगीन-ओ-पेचीदा-से चट्टान-से रिश्ते_*


✍️🌲🥀🌷🌷🌷🌷🌷🥀🌲✍️

अजून वाचा
Rooh The Spiritual Power तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
4 दिवस पूर्वी

My New Poem....!!!!


काबिल लोग,🌹🌲
ना तो किसी से दबते है,
और ना ही किसी को दबाते हैं

हर नेहले पे देहले वाला
जवाब देना उन्हें भी खूब,
आता है......पर 🌹🌲

कीचड़ में पत्थर कौन मारे,
यह सोचकर चुप रह जाते है
दामनों को अपने बचा लेते है 🌹🌲

वक़्त की दहलीज़ से अच्छाइयों के
गुच्छे अपने नाम कर बूराईओ से
किनारा कर वक़्त गुज़ार लेते🌹🌲

हर दौर में प्रभु भी इम्तिहान एसे
ही बंदों का ले-कर इन्हें पारस
पर घस सोना बना देते🌹🌲


✍️🥀🌺🌴🖊🖊🖊🌺🥀✍️

अजून वाचा

My New Poem ...!!!

માણો તો મોજ છે...

બાકી...

ઉપાદી તો રોજ છે...!

બધા જ ખુશ થાય

એ જ દવાની ખોજ છે ..!!

વરસે વરસે વરસી જાય

ના વરસે તો ધરતી બોજ છે ..!!

હલકા તાંતણા તો ઉડી જાય

ભારે જીવનો જીવ યોગ છે..!!

લાબું જીવી શું ધાડ મારશો

ટીપે ટીપે ટીપી નાખો રોગ છે ..!!

જીવને પણ જીવવાની કળા છે

નવરાઔને નખરાળો નખ્ખોદ છે..!!

ઉન્માદ મસ્તી ભોગ વિલાસ કૈદ છે

“રુઁહ” ને મુક્તિનો માત્ર સંજોગ છે..!!

એમ તે કાંઈ મીરાં કબીર મહાવીર બની

વિદાય ના થાય શરીરનો પણ સંયોગ છે..!!

✍️✍️🌹🌹🙏🙏🌹🌹✍️✍️

अजून वाचा
Rooh The Spiritual Power तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
5 दिवस पूर्वी

My Truthful Poem... !!!!!


“नहीं”

और

“हाँ”

यह दो शब्द है तो छोटे

लेकिन

इन दो शब्दों के लिए हमें

बहूत बहुत सोचना पड़ता है,




हम ज़िन्दगी में बहुत सी

चीज़ें खो देते है,


“नहीं”

ज़ल्दबाजी में बोलने पर,

और

“हाँ”

देर से बोलने पर....!!!


✍️🥀🌲💐👍👎💐🌲🥀✍️

अजून वाचा
Rooh The Spiritual Power तुमचे अपडेट्स पोस्ट झाले हिंदी कविता
5 दिवस पूर्वी

My New Poem...!!!!


जीने की वजह... ''इश्क़''

जीने नहीं देता... ''इश्क़''

सुकून भी देता.... ''इश्क़''

चैन छीन लेता.... ''इश्क़''

सोने नहीं देता..... ''इश्क़''

घूँटन से मारता..... ''इश्क़''

तन्हाई में जगाता.... ''इश्क़''

परछाई में पनपता..... ''इश्क़''

रात-जगाईं करवाता .... ''इश्क़''

यार की याद दिलाता..... ''इश्क़''

बावरा पागल बनाता..... ''इश्क़''

भँवरे-सा बंद-हवास-सा...''इश्क़''

🦋 तितली-सा नाज़ुक....”इश्क़''

मज़लूम की मासूम सदा...''इश्क़''

रब की पसंदीदा अदा..... ''इश्क़''


✍️🥀🌹🌲💐🖊💐🌲🌹🥀✍️

अजून वाचा