हरि - पाठ ५ Sudhakar Katekar द्वारा आध्यात्मिक कथा मराठी में पीडीएफ

हरि - पाठ ५

Sudhakar Katekar मातृभारती सत्यापित द्वारा मराठी आध्यात्मिक कथा

हरिपाठ५ ५ जपतां कुंटिणी उतरे विमान । नाम नारायण आलें मुखा ॥ १॥ नारायण नाम तारक तें आम्हां । नेणों पैं महिमा अन्य तत्त्वीं ॥ २॥ तरिले पतित नारायण नामें । उद्धरिले प्रेमें हरिभक्‍त ॥ ३॥ निवृत्ति उच्चार नारायण ...अजून वाचा


इतर रसदार पर्याय